स्पिरिट ऑफ इण्डिया रन का काफिला उदयपुर पहुंचा


| February 29, 2016 |

पेट फार्मर ने रविवार को 80 किमी दौड़ पूरी की

उदयपुर, 28 फरवरी | स्पिरिट ऑफ इण्डिया रन के अन्तर्गत श्रीनगर तक की रेस पूरी करने निकले आस्ट्रेलिया के सांसद एवं पूर्व मंत्री पेट फार्मर का उदयपुर शहर पहुंचने पर शानदार स्वागत किया गया। महापौर चन्द्रसिंह कोठारी एवं अतिरिक्त जिला कलक्टर ओपी बुनकर ने उनकी अगवानी की और साफा बांध कर स्वागत किया। इस मौके पर भारत सरकार के पर्यटन विभागीय क्षेत्रीय निदेशक अरुण श्रीवास्तव, पर्यटन उप निदेशक सुमिता सरोच, इण्डियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के राजस्थान इकाई के चैयरमेन भीमसिंह, पृथ्वीसिंह, मुकेश कुमार मोहनसिंह, फारूक, शरद, देव वर्मन सहित पर्यटन विभागीय प्रतिनिधि,गणमान्य नागरिक, होटल, ट्रावेल व अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

बाद में होटल शिकारबाड़ी में पेट फार्मर ने अपने अनुभव साझा किए और भारतवर्ष को भाषाओं, संस्कृति, परंपराओं और प्रेम धाराओं के कारण अतुलनीय एवं विलक्षण बताया और कहा कि वे इस धरा पर आकर बेहद अभिभूत हैं और उन्हें आत्मीय प्रसन्नता है। उन्होंने कहा कि भारत से उन्हें बेहद लगाव तथा उनकी यात्रा से भारत एवं आस्टे्रेलिया के संबंधों को मजबूती प्राप्त होगी। इस दौरान पेट फार्मर की पत्नी तानिया, ट्रेनर व सपोर्टर जोस व केटी वाल्स भी उपस्थित थे।

Spirit of INDIA  (2)

पेट फार्मर ने जगह-जगह हुए अपने स्वागत से अभिभूत होकर अत्यन्त भावुक होते हुए कहा कि वे खूब आनंदित हैं। उनके शरीर का एक भाग आस्ट्रेलिया है, दूसरा भारत। और बीच में ह्वदय। उन्होंने कहा कि भारत भूमि में पग-पग पर सांस्कृतिक, भौगोलिक, धार्मिक विविधताएं हैं, नैसर्गिक सौंन्दर्य है, और इतना सब कुछ है जो अभिभूत कर देने वाला है, ऎसा दुनिया में और कहीं नहीं है।

उन्होंने कहा कि वे जो कुछ कर रहे हैं उसका मकसद औरों में प्रेरणा जगाना है और यह तभी संभ्व है जब कोई विशिष्ट कार्य हाथ में लिया जाकर पूर्णता दी जाए। भारत में पर्यटन की अपार संभावनाओं को भी उनकी यात्रा से बल मिलेगा तथा उनके साथ चल रही टीम द्वारा बनाई जा रही डॉक्यूमेन्ट्री से पूरी दुनिया को भारत के बारे में अपनी जिज्ञासाओं को शांत करने तथा इस महान और अतुलनीय देश को जानने का मौका मिलेगा। उन्होंने भारत में लजीज खाने का भी जिक्र किया और कहा कि भारतीय व्यंजनों का स्वाद हमेशा याद रहेगा।

क्षेत्रीय निदेशक अरुण श्रीवास्तव ने स्पिरिट ऑफ इण्डिया का परिचय दिया। चैयरमेन भीमसिंह ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किया। बाद में उन्होंने राजस्थानी सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आनंद लिया।

सोमवार सवेरे पांच बजे पारस चौराहे से रेस शुरू होगी
पेट फार्मर सोमवार को सवेरे पांच बजे पारस चौराहे से रेस शुरू करेंगे। कल वे राजसमन्द के लिए प्रस्थान करेंगे।

रास्ते भर हुआ स्वागत
इससे पूर्व रविवार को प्रातः खेरवाड़ा से उनकी रेस आरंभ हुई। इसमें उनकी पत्नी तानिया, दोनों प्रशिक्षकों और टीडी थाने की महिला कांस्टेबल ने भी कुछ किमी दौड़ लगाई। ऋषभदेव में ट्रक ड्राईवरों के समूह ने उन्हें रोक कर भावपूर्ण आवभगत की और टीड़ी तथा रास्ते में कई स्थानों पर ग्रामीणों के समूहों ने उनका स्वागत किया। उनकी पत्नी तानिया ने उनके साथ बीस किमी दौड़ पूरी की। जबकि जोस ने 5 व केटी वाल्स ने 10 किमी रेस की। पेट फार्मर ने रविवार को 80 किमी दौड़ पूरी की। रोजाना वे 70 से 80 किमी की दौड़ पूरी करते हैं।

Share Button
[fbcomments]

Participate in exclusive #UI wizard